जानिए इकोस्प्रिन टेबलेट क्या है? उपयोग, फायदे, खुराक, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट व इससे जुड़े सभी सवालों के जवाब हिंदी में | What is Ecosprin Tablet its Uses, Best Benefits, Dosage Precautions, Side effects in Hindi

Must Read

Dr. Pranav Bhardwaj
Dr. Pranav Bhardwajhttp://goodswasthya.com
Pranav Bhardwaj has been in health blogging for the last couple of years with writeups for different magazines and articles. He holds a Doctor of Pharmacy ( PharmD ) degree and having experience in drug administration and control drug delivery system. His hobbies include Reading magazines, Netflixing. Pranav is a very calming person and you will always enjoy his company and is a charm to talk to.

इकोस्प्रिन टेबलेट क्या है? उपयोग, फायदे, खुराक, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट| Ecosprin Tablet its Uses, Best Benefits, Dosage, Precautions, Side effects in Hindi

नमस्कार दोस्तों आप सभी का स्वागत है हमारे ब्लॉग में जैसे कि आप जानते ही हैं की ऐसी बहुत सी दवाइयां होती हैं जो किसी एक बीमारी के साथ साथ अनेकों बीमारियों में इस्तेमाल की जा सकती हैं और यह दवाइयां किसी आम मनुष्य के लिए रामबाण से कम नहीं होती क्योंकि यह छोटी सी गोलियां आसानी से किसी भी मनुष्य की जान तक बचा सकती हैं आज ऐसी ही एक दवाई के बारे में हम आपको बताने वाले हैं जिसका नाम है Ecosprin,  Ecospirin Tablet डॉक्टर के द्वारा लिखी जाने वाली दवाई है, जो की कैप्सूल तथा टेबलेट दोनों के रूप में ही मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध रहती है

इस दवाई का उपयोग विशेष रूप से बुखार तथा दिल का दौरा पड़ने पर किया जाता है, इसके अतिरिक्त इस दवाई के और भी बहुत से इस्तेमाल डॉक्टर के द्वारा मरीज के ऊपर किए जा सकते हैं, परंतु वह सब आपको आगे जानने को मिलेगा, आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको Ecosprin Tablet के बारे में बताएंगे कि :-

  • Ecosprin Tablet Kya Hai – What Is Ecosprin Tablet In Hindi?
  • Ecosprin Tablet  की सामग्री – Active Ingredients In Ecosprin In Hindi?
  • Ecosprin Tablet Ke Fayde – Benefits Of Ecosprin Tablet In Hindi?
  • Ecosprin Tablet Ki Khurak – Dosage Of Ecosprin Tablet In Hindi?
  • Ecosprin Tablet को इस्तेमाल करने का तरीका – How To Use Ecosprin Tablet In Hindi?
  • Ecosprin Tablet Ke Nuksan – Side Effect Of Ecoprin Tablet In Hindi?
  • Ecospirin Tablet से संबंधित कुछ चेतावनी – Warning Related To Ecosprin In Hindi?
  • Ecosprin Tablet को किन बीमारियों में नहीं खाना चाहिए – What diseases should not be eaten in Ecosprin Tablet
Ecosprin Tablet Kya Hai - What Is Ecosprin Tablet In Hindi?

Ecosprin Tablet Kya Hai – What Is Ecosprin Tablet In Hindi?

इकोस्प्रिन टेबलेट मुख्य रूप से डॉक्टर के द्वारा ही लिखी जाती है, और यह दवाई सभी मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध रहती है, यह दवाई डॉक्टर ज्यादातर दिल का दौरा पड़ने पर या फिर एंजाइना ( Angina ) का इलाज करने के लिए मरीज पर इस्तेमाल करता है, डॉक्टर यह दवाई मरीज को अक्सर आयु लिंग तथा उसकी पिछली बीमारी के आधार पर ही देता है

यह दवाई देने से पहले डॉक्टर अक्षरा हमसे पिछली बीमारियों के बारे में जरूर पूछता है, या फिर आपको वर्तमान में कोई बीमारी है तो उसके बारे में आपको डॉक्टर को अवश्य बताना चाहिए। क्योंकि बहुत सी बीमारियों में यह दवाई नुकसान भी कर जाती है या फिर कहे तो बहुत ही दवाइयों के साथ इकोस्प्रिन टेबलेट नुकसान करती है।

Ecosprin Tablet  की सामग्री – Active Ingredients In Ecosprin In Hindi?

  • यदि हम इस दवाई के एक्टिव इनग्रेडिएंट की बात करें, तो इस दवाई में मुख्य रूप से सिर्फ एस्प्रिन ( Aspirin ) ही होता है। Aspirin का भी मुख्य रूप से हमारे शरीर में अलग अलग तरह का फंक्शन होता है, एस्प्रिन हमारे शरीर में जाकर हमारे खून को पतला करता है आपने अक्सर सुना होगा कि हार्ट अटैक आने का खतरा उस समय ज्यादा बढ़ जाता है।
  • जब हमारे शरीर में खून का खून गाढ़ा हो जाता है और यदि हम ऐसी दवाइयों का सेवन करते हैं, जिसमें एस्प्रिन की मात्रा पाई जाती है तो यह हार्ट अटैक का खतरा भी काफी हद तक कम कर देती है, इसीलिए अक्सर डॉक्टर कहते हैं की हार्टअटैक की शिकायत होने पर तुरंत ही ऐसी दवाइयां खानी चाहिए जिसमें एस्प्रिन होता है। इसके अतिरिक्त भी एस्प्रिन का बहुत फायदा हमारे शरीर में होता है, जो कि हम आगे विस्तार से जानेंगे।

और पढ़े :- जानिए एस्पिरिन क्या है? उपयोग, फायदे, खुराक, सावधानियां तथा साइड इफेक्ट व इससे जुड़े सभी सवालों के जवाब हिंदी में | What is Aspirin its Uses, Best Benefits, Dosage Precautions, Side effects in Hindi

Ecosprin Tablet Ke Fayde – Benefits Of Ecosprin Tablet In Hindi?

Ecosprin Tablet के बहुत से फायदे होते हैं जैसे कि :-

  • यदि आप को बुखार है तो बुखार की समस्या में भी इस दवाई को खा सकते हैं, यह दवाई बुखार पर बहुत जल्दी अपना असर दिखाती है।
  • यदि आपको जोड़ों तथा मांसपेशियों में दर्द हो रहा है, तो भी आप इस दवाई का सेवन कर सकते हैं।
  • आपको अर्थराइटिस ( Arthritis ) बीमारी में भी है दवाई दे सकता है, क्योंकि इस बीमारी में भी है काफी ज्यादा फायदेमंद साबित होती है।
  • यदि किसी व्यक्ति को खून का थक्का जमने से संबंधित कोई विकार है, तो इस बीमारी में भी डॉक्टर आपको यह दवाई दे सकता है।
  • माइग्रेन तथा सिर दर्द से संबंधित बीमारियों में भी यह दवाई काफी ज्यादा फायदेमंद साबित होती है।
  • इस दवाई का सबसे बड़ा फायदा है कि दिल का दौरा पड़ने पर भी डॉक्टर आपको यह दवाई देता है, क्योंकि दिल का दौरा ( Heart Attack ) पड़ने पर यह आपकी जान बचा सकती है, और इसके साथ साथ ही हार्ट फेल ( Heart Fail ) होने पर भी यह दवाई आपकी जान बचा सकती है।
  • एंजाइना ( Angina ) की बीमारी में भी डॉक्टर आपको यह दवाई दे सकता है। इन बीमारियों के अलावा भी डॉक्टर आपको बहुत सी बीमारियों में है दवाई दे सकता है परंतु वह डॉक्टर के ऊपर निर्भर करता है।
Ecosprin Tablet Ki Khurak - Dosage Of Ecosprin Tablet In Hindi?

Ecosprin Tablet Ki Khurak – Dosage Of Ecosprin Tablet In Hindi?

यदि यह दवाई आपको डॉक्टर के द्वारा दी जाती है तो डॉक्टर आपको इस दवाई की खुराक के बारे में बता देता है, कि आपको इस दवाई का सेवन किस प्रकार करना है और जिस प्रकार डॉक्टर आपको इस दवाई का सेवन करने के लिए कहता है, आपको बिल्कुल वैसे ही इसका सेवन करना है, क्योंकि ओवरडोज ( Overdose ) तथा दवाई का गलत तरीके से सेवन करने से आपको बहुत से साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं, और वह साइड इफेक्ट आपके लिए काफी खतरनाक भी साबित हो सकते हैं।

Ecosprin Tablet Ke Nuksan – Side Effect Of Ecoprin Tablet In Hindi?

यदि आप इस दवाई का सेवन अधिक मात्रा में करते हैं या फिर कुछ बीमारियां  ऐसी होती हैं, जिनमें यह दवाई साइड इफेक्ट का कारण बन सकती है। इसीलिए डॉक्टर आपको जिस प्रकार इस दवाई का सेवन करने के लिए कहता है आपको बिल्कुल वैसे ही सेवन करना है, अन्यथा साइड इफेक्ट के रूप में आपको बहुत सी समस्याएं हो सकती हैं जैसे कि :-

  • इस दवाई के साइड इफेक्ट के रूप में आपके पेट में सूजन भी हो सकती है, और आपको लगातार कई घंटों तक उल्टियां भी हो सकती हैं।
  • इस दवाई के नुकसान स्वरूप आपके पेट में दर्द भी हो सकता है, और यहां तक कि आपको कब्ज की समस्या का सामना भी करना पड़ सकता है।
  • इस दवाई के साइड इफेक्ट के रूप में आपके सीने में भी काफी ज्यादा जलन हो सकती है, और इसके साथ साथ आपकी दिल की धड़कनें भी अनियमित हो सकती हैं।
  • इस दवाई के साइड इफेक्ट के रूप में आपकी त्वचा पर लाल लाल दाने भी हो सकते हैं, और इसके साथ-साथ आपको त्वचा पर चकत्ते ( Rashes ) भी हो सकते हैं।
  • इस दवाई का अधिक मात्रा में सेवन करने से आपकी त्वचा पीली भी पड़ सकती है या फिर खुजली भी हो सकती है।
  • Ecosprin Ke Side Effect के रूप में आपके रक्त में प्लेटलेट ( Platelets in Blood )में भी कमी आ सकती है, जिसके कारण आपकी जान पर भी बात आ सकती है, इसीलिए हमें किसी भी दवाई को मजाक में नहीं लेना चाहिए। डॉक्टर हमें जिस प्रकार की खुराक बना कर देता है हमें बिल्कुल वैसे ही खुराक लेनी चाहिए।

Ecosprin Tablet को इस्तेमाल करने का तरीका – How To Use Ecosprin Tablet In Hindi?

  • पहली बात तो यह है कि डॉक्टर की सलाह लिए बिना यह दवाई ना लें।
  • भूलकर भी इस दवाई को पानी में ना भूलें आप इस दवाई को सीधा जी पर रखें और ऊपर से पानी पीकर ही से निंगल जाएं।
  • इस दवाई को आप खा3ना खाने के बाद खा सकते हैं, परंतु खाली पेट इस दवाई को नहीं खाया जा सकता यदि आपका कुछ खाने का मन भी नहीं है, तो थोड़ा बहुत कुछ भी खा कर उसके ऊपर से आप यह दवाई खा सकते हैं, तो फिर यह दवाई आपके लिए फायदेमंद साबित होगी।
Ecosprin Tablet से संबंधित कुछ चेतावनी - Warning Related To Ecosprin In Hindi?
image source :-https://www.canva.com/
  • यदि डॉक्टर ने आपको मिल गई मुझे दिल से संबंधित बीमारी ने Ecosprin Tablet खाने के लिए दी है, तो एक बात का विशेष रूप से ध्यान रखें कि जब तक यह दवाई आप खाते हैं, तो तब तक आप को पानी का ज्यादा से ज्यादा सेवन करना है।
  • गर्भवती महिलाएं यदि इस दवाई को लेती हैं, तो उन्हें नुकसान भी हो सकता है इसीलिए यदि आप गर्भवती हैं, तो डॉक्टर को अवश्य बताएं फिर डॉक्टर आपको कोई अलग दवाई भी दे सकता है।
  • यदि आपको शराब की लत है तो भूल कर भी शराब पीने के बाद इस दवाई का सेवन ना करें, नहीं तो आपको परिणाम स्वरूप कुछ भी साइड इफेक्ट हो सकता है क्योंकि शराब में अल्कोहल होता है, और अल्कोहल के साथ ज्यादातर 100 में से 99% दवाइयां नकारात्मक प्रभाव डालती हैं।

Ecosprin Tablet को किन बीमारियों में नहीं खाना चाहिए – What diseases should not be eaten in Ecosprin Tablet?

पहली बात तो यह है कि जब भी आप डॉक्टर के पास कोई भी दवाई लेने जाते हैं तो आपको डॉक्टर को सबसे पहले अपने बारे में बताना चाहिए यदि आपको कोई बीमारी है तो उस बीमारी के बारे में डॉक्टर को जरूर बताना चाहिए क्योंकि फिर उसी हिसाब से डॉक्टर आपको दवाई देता है इसके अतिरिक्त अब हम नीचे आपको बता देते हैं कि किन बीमारियों में आप इस दवाई को नहीं खा सकते :-

  • यदि आपके शरीर की त्वचा पर किसी भी प्रकार की कोई एलर्जी है, तो उस एलर्जी की समस्या में इस दवाई को नहीं लेना चाहिए।
  • यदि आपको लीवर से संबंधित बीमारियां हैं, तो उन बीमारियों में भी Ecosprin Tablet का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • गुर्दे की बीमारियों में भी Ecosprin Tablet का सेवन करना हानिकारक हो सकता है।
  • रक्तस्त्राव ( Bleeding ) की समस्या में भी Ecosprin Tablet की खुराक आपके लिए नुकसानदायक हो सकती है।
  • यदि आप किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं तो  उन बीमारियों में भी इस दवाई को आप नहीं खा सकते, क्योंकि आप मान लीजिए कि यदि कोई व्यक्ति कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से पीड़ित है, तो उस व्यक्ति की तो पहले से ही बहुत सारी दवाइयां चल रही होती हैं, यदि उन दवाइयों के साथ वह व्यक्ति इस प्रकार की दवाई का सेवन करता है तो फिर कुछ नुकसान भी हो सकता है।
  • यदि आपको मधुमेह की समस्या है, तो फिर भी आपको दवाई लेने के समय पर डॉक्टर को बताना चाहिए कि आपको मधुमेह की समस्या है, तो फिर डॉक्टर आपको अपने हिसाब से दवाई देगा।

Ecosprin Tablet Conclusion –

उम्मीद करते हैं कि आपको Ecosprin Tablet से संबंधित हमारा यह आर्टिकल काफी पसंद आया होगा। इस आर्टिकल में हमने आपको Ecosprin Tablet Ke Fayde तथा Ecosprin Tablet Ke Side Effect In Hindi बताया है, इसके साथ-साथ हमने आपको Ecosprin Tablet Ki Khurak और Ecosprin Tablet Uses In Hindi बताए हैं, यदि अब भी आपको Ecosprin Tablet से संबंधित कोई प्रश्न पूछना हो, तो आप कमेंट सेक्शन में कमेंट कर सकते हैं हम आपको उसका जवाब जरूर देंगे। धन्यवाद

लेटेस्ट लेख

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

Low Ejection Fraction: लो इजेक्शन फ्रैक्शन क्या है? जानिए लो इजेक्शन फ्रैक्शन के लक्षण एवं बचाव

More Articles Like This